Thursday, December 1, 2022
Home नई दिल्ली जानिए पद्मश्री लेने पहुंचे 125 साल के बुजुर्ग , जिनके सम्मान में...

जानिए पद्मश्री लेने पहुंचे 125 साल के बुजुर्ग , जिनके सम्मान में झुक गए PM मोदी

 

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को राष्ट्रपति भवन में पद्म पुरस्कारों प्रदान किए. इन पुरस्कारों को हासिल करने वालों में एक नाम बेहद खास रहा, जो था स्वामी शिवानंद का, जिन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया गया. स्वामी जब पद्मश्री लेने पहुंचे तो उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को दंडवत प्रणाम कर लिया, इसके बाद पीएम ने भी उसी तरह योगगुरु को प्रणाम किया. आइये जानते हैं कि सादा जीवन बिताने वाले यह बुजुर्ग कौन हैं.


दरअसल योग के क्षेत्र में योगदान के लिए स्वामी शिवानंद को पद्मश्री से सम्मानित किया गया है. लेकिन जैसे की राष्ट्रपति भवन में स्वामी का नाम पुरस्कार ग्रहण करने के लिए पुकारा गया, वह सीधे पीएम मोदी के पास जाकर उन्हें दंडवत प्रणाम करने लगे. यह देख पीएम मोदी भी तुरंत अपनी कुर्सी से उठ खड़े हुए और उन्होंने भी उसी मुद्रा में  स्वामी का अभिवादन किया।

पीएम मोदी और स्वामी शिवानंद के बीच इस अनोखे अभिवादन को देखकर पूरा हॉल तालियों से गूंज उठा. हर कोई स्वामी के इस अंदाज से हैरान था. आगे की पक्तियों में पीएम मोदी के आस-पास बैठे मंत्री भी उठकर स्वामी को प्रणाम करने लगे.

इसके बाद 125 साल के स्वामी शिवानंद ने राष्ट्रपति के पास जाकर उन्हें भी दंडवत प्रणाम किया. राष्ट्रपति ने उन्हें नीचे आकर उठाया और कुछ बात करने लगे. इसके बाद स्वामी शिवानंद को राष्ट्रपति की ओर से पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया. इस दौरान हॉल में मौजूद गणमान्य लोग अपनी सीट से खड़े होकर अभिवादन करते  दिखे।

स्वामी शिवानंद का जन्म साल 1896 में हुआ था. फिर वह बंगाल से काशी पहुंचे और वहां सेवा का काम शुरू कर दिया. गुरु ओंकारानंद से शिक्षा लेने के बाद स्वामी शिवानंद ने योग और ध्यान में महारत हासिल की. बताया जाता है कि जब स्वामी की उम्र 6 साल थी तब एक माह के भीतर ही उनकी बहन, मां और पिता की मौत हो गई. लेकिन उन्होंने मोह त्याग कर परिजनों के शव को मुखाग्नि देने तक से इनकार कर दिया था।

अपने गुरु के निर्देश पर स्वामी शिवानंद ने लंदन से शुरू करके लगातार 34 साल तक पूरी दुनिया का दौरा किया. वह यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, रूस जैसे देशों की यात्रा कर चुके हैं. स्वामी आज भी उबला भोजन खाते हैं और एकदम सादा जीवन जीते हैं

RELATED ARTICLES

*ऋषिकेश निम बीच मे दिल्ली निवासी 02 युवक डूबे, SDRF ने चलाया सर्चिंग अभियान।*

*ऋषिकेश निम बीच मे दिल्ली निवासी 02 युवक डूबे, SDRF ने चलाया सर्चिंग अभियान।* आज दिनाँक 29 अक्टूबर 2022 को थाना मुनिकीरेती द्वारा SDRF को...

कुत्ते को कार से बांधकर सड़क पर दौड़ाया, ये Viral Video देखकर आप दहल जाएंग

    Video Player 00:00 00:45 Jodhpur News: राजस्थान के जोधपुर में एक कुत्ते के साथ क्रूरता का वीडियो वायरल हो रहा है. इस कुत्ते (dog) को अपनी कार...

योगी नाम का 1 लाख रुपये विकलांग केंद्र को दिया जायेगा, जानिए पूरा मामला?

  इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने नाम के साथ योगी शब्द का प्रयोग करने से रोकने की मांग को लेकर दाखिल याचिका...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

उत्तराखण्ड विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ द्वारा अपनी महत्वपूर्ण मांगों को लेकर कल प्रस्तावित प्रदेशव्यापी चक्का जाम को कांग्रेस पार्टी ने दिया अपना समर्थन

देहरादूनः- उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि उत्तराखण्ड विक्रम ऑटो परिवहन महासंघ द्वारा अपनी महत्वपूर्ण मांगों को लेकर कल...

बुजुर्गो का मददगार हेल्पेज इंडिया समाज कल्याण विभाग उत्तराखंड सरकार के सौजन्य से हेल्पेज इंडिया द्वारा देहरादून नगर के वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण हेतु...

समाज कल्याण विभाग उत्तराखंड सरकार के सौजन्य से हेल्पेज इंडिया द्वारा देहरादून नगर के वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण हेतु राज्य कार्य योजना के अंतर्गत...

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को अगस्तमुनि के कोटरी में नर्सिंग कॉलेज का भूमि पूजन एवं शिलान्यास किया

*रूद्रप्रयाग/देहरादून* *14 नवम्बर, 2022* मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को 20 करोड़ 44 लाख 16 हजार की लागत से विकास खंड अगस्त्यमुनि के कोठगी...

Big breaking :-परीक्षाओ में नकल के आरोपों के बीच, अधीनस्थ आयोग ने इन युवाओं क़ो बुलाया

अधीनस्थ आयोग ने दस्तावेज सत्यापन को बुलाया नकल केस में बरी युवा नौकरी पाएंगे देहरादून| बहुचर्चित फॉरेस्ट गार्ड भर्ती नकल के मुकदमे से बरी कई...

Recent Comments