Wednesday, February 8, 2023
Home उत्तराखंड अधिकारी अनावश्यक कमरे न घेरे, जिनकी आवश्यकता वही रुकें- कैबिनेट मंत्री सतपाल...

अधिकारी अनावश्यक कमरे न घेरे, जिनकी आवश्यकता वही रुकें- कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज

जोशीमठ। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने जोशीमठ पहुंचकर मकानों और होटलों में आयी दरारों व भू-धसाव का स्थलीय निरिक्षण कर जहां एक ओर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश देते हुए प्रभावितों को हर संभव मदद दिये जाने की बात कही वहीं उन्होने प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से दूरभाष पर वार्ता कर उन्हें वस्तु स्थिति से अवगत कराया।

प्रदेश के पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने गुरुवार को जोशीमठ पहुंचकर मकानों और होटलों में आयी दरारों व भू-धसाव का स्थलीय निरिक्षण कर जहां एक ओर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश देते हुए प्रभावितों को हर संभव मदद दिये जाने की बात कही वहीं उन्होने प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से दूरभाष पर वार्ता कर वस्तु स्थिति से अवगत कराया।

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने जोशीमठ स्थित सिंहधार, नरसिंह मंदिर, गांधीनगर, जेपी कॉलोनी (मारवाड़ी) आदि स्थानों में भू-धसाव की जद में आए मकानों और भवनों के निरीक्षण करने के साथ साथ नगर पालिका और गुरुद्वारे में चल रहे राहत शिविरों की व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया। उन्होंने आपदा से प्रभावित एक परिवार के कई-कई लोगों के एक ही कमरे में रहने को लेकर कहा कि जिन अधिकारियों की वहां पर जरूरत है, केवल वही जोशीमठ में रुकें ताकि भू-धसाव से प्रभावित ऐसे परिवारों को कमरे मिल सकें।

महाराज ने कहा कि सरकार द्वारा 50-50 हजार रुपये की तत्काल सहायता दी गई है। क्षति का आंकलन करने के बाद सरकार पूरी मदद करेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में इस आपदा से निपटने का सरकार हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि जिस प्रकार से जोशीमठ को लेकर मीडिया में खबरें आ रही है उसे सुनकर पर्यटकों ने अधिकांश बुकिंग कैंसिल कर दी है। उन्होंने प्रोटोकॉल से आह्वान करते हुए कहा कि जोशीमठ को छोड़कर उत्तराखंड में सभी स्थान सुरक्षित हैं। सरकार औली में होने वाले विंटर गेम्स् को संपन्न कराने का भी प्रयास करेगी।

महाराज ने कहा कि आपदा का सरकार पूरा विश्लेषण कर रही है। एक और जहां राज्य सरकार पूरी मुस्तैदी के साथ काम कर रही है वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भी पूरा विश्वास दिलाया है कि वह प्रभावित लोगों की हर संभव सहायता करेंगे।

इस दौरान कैबिनेट मंत्री महाराज के साथ पूर्व मंत्री मोहन सिंह रावत गांववासी, ऋषि प्रसाद सती, कुलदीप वर्मा, गजेन्द्र रावत, दर्शन सिंह दानू, मनोज भण्डारी, वीरेन्द्र असवाल, महावीर रावत और पंकज डिमरी आदि मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

काश्तकारों का मुआवजा समय पर दिया जाए- सतपाल महाराज

विधानसभावार द्वितीय चरण स्टेज-2 सड़कों की हुई समीक्षा मंत्री ने की विधानसभा क्षेत्र चौबट्टाखाल में सड़कों की रिपोर्ट तलब देहरादून। प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, पंचायती राज,...

देहरादून अपडेट- नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों पर अब ड्रोन से रखी जाएगी नजर, रिकार्डिंग के आधार पर किया जाएगा चालान

देहरादून। नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों पर ड्रोन से नजर रखी जाएगी। इसकी रिकार्डिंग के आधार पर इन वाहनों का चालान भी किया जाएगा।...

ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के विकास के लिए 9 योजनाओं पर लगी मुहर

देहरादून। ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के विकास के लिए नौ योजनाओं को मंजूरी दी गई है। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी की अध्यक्षता में आयोजित हुई गैरसैंण...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

काश्तकारों का मुआवजा समय पर दिया जाए- सतपाल महाराज

विधानसभावार द्वितीय चरण स्टेज-2 सड़कों की हुई समीक्षा मंत्री ने की विधानसभा क्षेत्र चौबट्टाखाल में सड़कों की रिपोर्ट तलब देहरादून। प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, पंचायती राज,...

पीसीएस मुख्य परीक्षा में शंकाएं होने के बावजूद भी जल्दबाजी में कराई जा रही परीक्षा- करन माहरा

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने पीसीएस मुख्य परीक्षा को लेकर सरकार और राज्य लोक सेवा आयोग पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि...

आरबीआई की मौद्रिक नीति का बाजार पर रहेगा असर

मुंबई।  विदेशी बाजारों के सकारात्मक रुझान के बीच स्थानीय स्तर पर एफएमसीजी, बैंक और आईटी समूह के जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत बीते सप्ताह 2.6 प्रतिशत...

देहरादून अपडेट- नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों पर अब ड्रोन से रखी जाएगी नजर, रिकार्डिंग के आधार पर किया जाएगा चालान

देहरादून। नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों पर ड्रोन से नजर रखी जाएगी। इसकी रिकार्डिंग के आधार पर इन वाहनों का चालान भी किया जाएगा।...

Recent Comments